Home news अयोध्या में 22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह में बीजेपी...

अयोध्या में 22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह में बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी शामिल होंगे.

7

विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने बुधवार को कहा कि भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी 22 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होंगे।

बीजेपी के सीनियर नेता लालकृष्ण आडवाणी 22 जनवरी को अयोध्या जाएंगे। वह राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होंगे। इसकी जानकारी विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने दी है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के नेता कृष्ण गोपाल और राम लाल, आलोक कुमार ने बुधवार को लालकृष्ण आडवाणी से मुलाकात की और राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह का निमंत्रण दिया। आडवाणी ने अयोध्या जाने की अपनी स्वीकृत दे दी है। 

आडवाणी को मुहैया कराई जाएगी चिकित्सा सुविधाएं

आलोक कुमार ने कहा कि अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा समारोह में उनकी यात्रा के दौरान लालकृष्ण आडवाणी को सभी आवश्यक चिकित्सा सुविधाएं और अन्य व्यवस्थाएं प्रदान की जाएंगी। वहीं, अयोध्या राम मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्रा और विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत को बुधवार को राम मंदिर ‘प्राण प्रतिष्ठा’ समारोह का निमंत्रण दिया। मोहन भागवत भी कार्यक्रम में शामिल होंगे।

ReadAlso;अयोध्या मंदिर क्यों है इतना खास? जानें अयोध्या में निर्माणाधीन श्रीराम जन्मभूमि मंदिर की विशेषताएं:

पीएम मोदी, सीएम योगी समेत कई हजारों लोग होंगे शामिल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22 जनवरी को भव्य मंदिर में राम लला की मूर्ति की स्थापना में शामिल होंगे। इस समारोह के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और देश भर से हजारों साधु-संतों को आमंत्रित किया गया है। प्राण प्रतिष्ठा समारोह के अवसर पर अयोध्या में एक लाख से अधिक श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद है। आयोजन से पहले, आरएसएस और विहिप सहित संबद्ध संगठनों के स्वयंसेवक देश भर में लोगों से संपर्क साध रहे हैं और उन्हें प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर अपने पड़ोस के मंदिरों में पूजा में शामिल होने के लिए आमंत्रित कर रहे हैं।

पुजारी लक्ष्मी कांत दीक्षित करेंगे वैदिक अनुष्ठान

बता दें कि 16 जनवरी से शुरू होने वाले सात दिनों के लिए। 22 जनवरी को राम मंदिर ‘प्राण प्रतिष्ठा’ के लिए तैयारियां जोरों पर चल रही हैं, जिसमें गणमान्य व्यक्ति और सभी क्षेत्रों के लोग शामिल होंगे। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने 22 जनवरी को दोपहर में राम मंदिर के गर्भगृह में राम लला को विराजमान करने का निर्णय लिया है। अयोध्या में राम लला के प्राण-प्रतिष्ठा समारोह के लिए वैदिक अनुष्ठान एक सप्ताह पहले 16 जनवरी से शुरू होंगे। वाराणसी के पुजारी लक्ष्मी कांत दीक्षित 22 जनवरी को राम लला के समारोह का मुख्य अनुष्ठान करेंगे। 14 जनवरी से 22 जनवरी तक अयोध्या में अमृत महोत्सव मनाया जाएगा।