गैंगस्टर्स के खिलाफ NIA का बड़ा एक्शन, UP, पंजाब समेत कई राज्यों में बड़े पैमाने पर छापेमारी

14

गैंगस्टर्स- आतंकी नेटवर्क पर ताजा ऐक्शन लेते हुए राष्ट्रीय जांच एजेंसी(एनआईए) ने पांच राज्यों के 20 स्थानों में रेड की है। इससे पहले अक्टूबर माह में भी एनआईए ने बड़े पैमाने पर छापेमारी की थी। सूत्रों के हवाले से पता लगा है कि एनआईए ने मंगलवार सुबह उत्तर प्रदेश, पंजाब, राजस्थान, हरियाणा और दिल्ली के छह जिलों में बड़े पैमाने पर छामेपारी की।

गैंगस्टर-आतंकवादी नेटवर्क पर एक बड़ी कार्रवाई में एनआईए ने सुबह दिल्ली, हरियाणा और अन्य राज्यों में कई छापे मारे। इस मामले से अवगत अधिकारियों ने कहा कि छापे – जो पंजाब और राजस्थान के स्थानों में भी रिपोर्ट किए गए हैं, एनआईए द्वारा पिछले सप्ताह तीन गैंगस्टरों लॉरेंस बिश्नोई, नवीन डबास और सुनील बालियान उर्फ ​​टिल्लू ताजपुरिया को हिरासत में लेने के बाद आए हैं।

पिछले महीने केंद्रीय एजेंसी द्वारा इस प्रकरण में जांच तेज करने के लिए इसी तरह की कार्रवाई शुरू की गई थी। अक्टूबर माह में एनआईए ने पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में 50 से अधिक स्थानों पर छापेमारी की थी। जांच एजेंसी ने गैंगस्टरों के आतंकवादियों और मादक पदार्थों के तस्करों से संबंधों के बारे में विवरण प्राप्त करने के लिए छापे मारी की थी। राजस्थान में चूरू के संपत नेहरा के परिसरों में छापेमारी की सूचना मिली थी। जबकि पंजाब में, वकील गुरप्रीत सिंह सिद्धू, कबड्डी प्रमोटर जग्गा जंडियान और कथित गैंगस्टर जमान सिंह के परिसरों की भी तलाशी ली गई थी।

एनआईए सूत्रों ने उस समय जोर देकर कहा था कि “इस तरह के आतंकी नेटवर्क के साथ-साथ उनके फंडिंग और समर्थन के बुनियादी ढांचे को खत्म करने के लिए” जांच जारी रहेगी। उन्होंने कहा है, “प्रारंभिक जांच से पता चला है कि ये गिरोह लक्षित हत्याओं को अंजाम दे रहे थे और ड्रग्स और हथियारों की तस्करी के जरिए ऐसी आपराधिक गतिविधियों को अंजाम देने के लिए धन भी जुटा रहे थे।”

इस बीच, मई में गायक-राजनेता सिद्धू मूसेवाला की हत्या में लॉरेंस बिश्नोई की जांच की जा रही है। जेल में बंद गैंगस्टर सुनील मान उर्फ ​​टिल्लू ताजपुरिया और नवीन डबास उर्फ ​​नवीन बाली दिल्ली की एक अदालत में जितेंद्र मान उर्फ ​​गोगी की हत्या से जुड़े हैं।