सोनू निगम और अलका के चले गए जमाने : भूषण कुमार

0
127

: संगीत की दुनिया में सबसे ज़्यादा नाम कमाने वाले रचयिता भूषण कुमार ने नराज़ सिंगर्स से माफी मांगते हुए कहा कि हर सिंगर का एक समय होता है और जनता उन्हें पूरे दिल से सुनती हैं लेकिन समय बदलता है और आज के समय के लोग पुनाने सिंगर्स को नहीं सुनना चाहते। उदित नारायण, सोनू निगम, हिमेश रेशमिया, अलका याग्निक जैसे तमाम बेहतरीन सिंगर्स जो एक समय में चारो तरफ फैलै हुए थे, आज अगर उन्हीं के गानों को उनकी ही आवाज में रीक्रिएट कर दिया जाए तो लोग उसे सुनने में कोई दिल्चस्पी नहीं लेते और गाना फ्लाप हो जाता है।

भूषण का कहना है कि सोनू निगम, अलका याग्निक जैसे सिंगर्स के साथ मैने बहुत काम किया है और मुझे कभी उनसे कोई दिक्कत नहीं हुई और न ही कभी किसी की काम करने को लेकर कोई शर्त जताई पर यहां मसला कुछ और है दरअसल बात यह है कि समय बदल गया है और हर कलाकार या सिंगर का एक वक्त होता है। अब यह बात किसी सिंगर को अच्छी लगती नहीं है, लेकिन इस बात का हमारे पास कोई इलाज भी नहीं है। भूषण का कहना हैं कि, ‘मैं अपने लिए तो गाने बनाता नहीं हूं। मैं दर्शकों की पसंद को ध्यान में रखकर गाने बनाता हूं। आज के दौर के सिंगर्स को लोग ज़्यादा सुनना पसंद कर रहे हैं। पुराने सिंगर्स के गानों को लोग आज के सिंगर्स की आवाज में सुनना पसंद करते हैं। अगर हम पुराने गानों को उसी सिंगर की आवाज में रीक्रिएट करें तो बहुत अच्छा रिस्पॉन्स नहीं मिल पाता है। इतनी मेहनत से बनाया गाना सिर्फ पुरानी आवाज़ की वजह से फ्लाप हो जाता है।

नाराज़ सिंगर्स से माफी मांगते हुए भूषण ने कहा कि ‘अब जो सिंगर इन सब बातों से नाराज होते हैं उसके लिए मैं कुछ नहीं कर सकता हूं, मेरे हाथ में कुच नहीं है। मैं उनकी नाराजगी को पूरी तरह समझ सकता हूं और सभी सिंगर्स से माफी मांगता हूं, लेकिन यह सब कुछ हमारे हाथ में नहीं, बल्कि दर्शको के हाथ में हैं। एक गाना जिसे वह नए सिंगर की आवाज में सुनना पसंद कर रहे हैं,  वही वो पुराने सिंगर्स की आवाज़ उस गाने को पसंद नहीं करते हैं। मुझ पर यह ब्लेम लगाना कि मैं किसी सिंगर से गाना नहीं गवा रहा हूं या किसी सिंगर का गाना किसी और से गवा रहा हूं यह सब ठीक बात नहीं है। मैं जो भी गाने जैसे भी बना रहा हूं सब कुछ दर्शको की मांग और पसंद को ध्यान में रख के ही बना रहा हूं।

भूषण आगे कहते हैं, ‘अब देखिए हमारी फिल्म सत्यमेव जयते में हमने “दिलबर-दिलबर” गाना रीक्रिएट किया है और उस गाने ने एक नया रिकॉर्ड बना लिया है। वह गाना नेहा कक्क्ड़ और ध्वनि भानुशाली से गवाया तो लोगों ने इसे काफी पसंद किया है। अगर इस गाने को हम अलका याग्निक से गवाते तो लोगों को वह नयापन नहीं मिलता और शायद गाना फ्लाप हो जाता। मैं एक फिर से माफी मांगता हूं, लेकिन सच्चाई यही है।

यदि आप भी पत्रकारिता जगत से जुड़ना चाहते हैं तो आइए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट में संपर्क करें-

 यह भी देखें-