spot_img
HomenewsPoliticsराम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर बोली बीजेपी, 'बस सुप्रीम कोर्ट के...

राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर बोली बीजेपी, ‘बस सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार’

लखनऊ- लोकसभा चुनाव नजदीक आते ही ‘राम मंदिर निर्माण’ का मुद्दा सुर्खियों में आने लगता है। कई दिनों से सभी राजनीतिक दल इस मुद्दे पर अपनी राय दे रहे हैं। कोई राम मंदिर के लिए अध्यादेश लाने की मांग कर रहा है तो कोई जल्द से जल्द राम मंदिर का निर्माण शुरु करने की बात कह रहा है। सभी दल इस मुद्दे पर अपनी राजनीतिक रोटियां सेकने में लगे हुए हैं। आरोप-प्रत्यारोप के बाद अब बीजेपी खुद इस मामले में आगे आई है। बीजेपी के प्रवक्ता जीवीएल नरसिंह राव ने राम मंदिर निर्माण पर कहा कि मोदी सरकार राम मंदिर के निर्माण को लेकर प्रतिबद्ध है और पार्टी सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार कर रही है।

जीवीएल नरसिंह राव ने कहा कि बीजेपी चाहती है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले से ही अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण हो या फिर दलों के आपसी समझौते से। नरसिंह राव ने कहा कि हमें सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार करना होगा। इससे पहले दशहरे के अवसर पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी लोगों से राम मंदिर के निर्माण के लिए तैयारियां शुरु करने के लिए कहा था। उन्होंने कहा था कि जल्द ही राम मंदिर का निर्माण शुरु होगा।

आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले संघ प्रमुख मोहन भागवत ने भी राम मंदिर को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि कुछ लोग राम मंदिर पर राजनीति कर रहे हैं और जानबूझकर राम मंदिर के निर्माण को खींचते जा रहे हैं। मोहन भागवत ने कहा था कि अयोध्या भगवान राम की जन्म भूमि है और यहां राम मंदिर बनना चाहिए। उन्होंने इस मामले में मोदी सरकार से कानून बनाने की भी मांग की थी। मोहन भागवत के इस बयान के बाद यह मामला और गर्मा गया था और राम मंदिर को लेकर शिवसेना ने भी मोहन भागवत पर निशाना भी साधा था।