बधाई हो र‍िव्यू: कॉमेडी और इमोशन से भरपूर है आयुष्मान खुराना की बधाई हो…

240

एक दर्शक के लिए अच्छा सिनेमा वही होता है जब वह फिल्म को एक मिनट के लिए भी खुद को अलग न कर सके। ‘बधाई हो’कुछ इसी तरह की फिल्म है। अर्जुन कपूर, सोनाक्षी सिन्हा और मनोज बाजपेयी अभिनीत फिल्म ‘तेवर’ के बाद निर्देशक अमित शर्मा ने फिल्म ‘बधाई हो’ बनाकर ‘तेवर’ से जुड़ी दर्शकों की सभी शिकायतों को दूर कर दिया है।

बॉलीवुड कलाकार आयुष्मान खुराना लीक से हटकर फिल्मों में काम करने के लिए जाने जाते हैं। फिर चाहे उनकी डेब्यू फिल्म’विक्की डोनर’ हो या फिर ‘दम लगाके हईशा’। ‘बधाई हो’ उनकी ऐसी ही फिल्म है।

फिल्म की कहानी दिल्ली के कौशिक परिवार की है, जहां घर में पिता (गजराज राव), माँ (नीना गुप्ता) के साथ उनका बेटा नकुल कौशिक (आयुष्मान खुराना) रहते हैं। नकुल को रेने (सान्या मल्होत्रा) से मोहब्बत है और दोनों का रोमांस परवान चढ़ता रहता है।

तभी अचानक से नकुल के घर में भूचाल मच जाता है। दरअसल, नकुल की माँ प्रेग्नेंट हो जाती हैं और फिर कहानी में बहुत सारे उतार चढ़ाव शुरू हो जाते हैं। आस पास के लोगों द्वारा ताने कसने की प्रक्रिया शुरू हो जाती है। मजेदार अंदाज में कहानी आगे बढ़ती है और अंततः क्या होता है, ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी।

‘बधाई हो (Badhaai Ho)’ ऐसी फिल्म है जिसमें हरेक एक्टर अपने बेमिसाल है। इस तरह की फिल्में बॉलीवुड में कम ही बनती हैं।फिल्म की कहानी स्टार है, एक्टर आयुष्मान खुराना तो देसी लौंडे के किरदार में जमते ही हैं। ऐसे ही यहां पर भी है। सान्या मल्होत्रा भी ठीक है।

लेकिन गजराज राव कमाल कर जाते हैं। रेलवे के टीटीई के किरदार की जो बारिकियां उन्होंने निभाई हैं, उस तरह का कैरेक्टर लंबे समय बाद स्क्रीन पर देखने को मिला है। नीना गुप्ता भी माशाअल्लाह हैं। उनके एक्सप्रेशंस ऐसे हैं कि छा जाती हैं। लेकिन सुरेखा सीकरी ने जो दादी का किरदार निभाया है, वह दादी फिल्म देखने के बाद लंबे समय तक जेहन में छाई रहती है। दादी कमाल है और उसके बोलने का अंदाज तो वाह।

‘बधाई हो (Badhaai Ho)’ फिल्म का बजट लगभग 20 करोड़ रु बताया जाता है। फिल्म फुलटू कॉमेडी है और हर ऐज ग्रुप को पसंद आने वाली है। फिल्म में इस तरह के टॉपिक को उठाया गया है जो अभी तक बॉलीवुड में देखा नहीं गया है। बात को इतने हल्के-फुल्के अंदाज में कहना भी फिल्म की यूएसपी डायरेक्शन भी कमाल का है और डायरेक्टर के लिए यही निकलता है ‘बधाई हो ।’

यदि आप पत्रकारिता के क्षेत्र से जुड़ना चाहते है,तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से :-