spot_img
Homenewsलखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे का एक हिस्सा धसा जमीन में, पढ़े पूरी खबर

लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे का एक हिस्सा धसा जमीन में, पढ़े पूरी खबर

देश के सबसे बड़े और लंबे लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे का आज एक हिस्सा ज़मीन में धस गया। आपको बता दें कि यह एक्सप्रेस-वे उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट के नाम से भी जाना जाता है। अखिलेश यादव ने इसे अपनी सरकार की एक बहुत बड़ी सफलता बताई थी।

 

बताया जा रहा है कि इस गड्ढे में एक गाड़ी गिर गई है, कार चालक जब गाड़ी चला रहा था तो उसे सड़क एक तरफ से कटी हुई दिखाई दी पर जब तक वह कुछ सोच पाता उससे पहले ही गाड़ी गड्ढे में जा गिरी। आपको बता दें कि यह हादसा वाजिदपुर पुलिया थाने के पास हुआ है जिसमें चार लोगों के घायल होने की खबर सामने आ रही है।

इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण में 13200 करोड़ रुपये खर्च हुए थे। 302 किलोमीटर लंबे 6 लेन के इस एक्सप्रेस-वे की सबसे खास बात यह है कि यह र्सिफ 2 साल में तैयार किया गया है और इस एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन के वक्त वहा पर फाइटर प्लेन भी उतारे गए थे, पर अब इसकी हकीकत सामने आ रही है।

आपको बता दे कि यह एक्सप्रेस-वे आगरा से शुरू होकर फिरोजाबाद, मैनपुरी, इटावा, औरैया, कन्नौज, हरदोई, कानपुर और उन्नाव होते हुए लखनऊ तक जाता है। इससे दिल्ली से लखनऊ का सफर बेहद आसान हो गया हैं।

एक्सप्रेस-वे पर उन्नाव के पास 3 किलोमीटर का एक रनवे भी तैयार किया गया है जहां जरूरत पड़ने पर फाइटर प्लेन उतारे जा सकते है। आम दिनों में ये एक्सप्रेस-वे सड़क की तरह काम करता है लेकिन किसी जरूरत के समय 3 किलोमीटर कि इस सड़क को दोनों तरफ से बंद करके वायु सेना के लिए एयर स्ट्रिप की तरह इस्तेमाल किया जाता है। यह पहली बार था जब किसी सड़क पर सुखोई फाइटर प्लेन उतार कर दिखाया गया जिसके कारण इस सड़क का एक हिस्सा आज जम़ीन में धस गया।

अगर आप भी पत्रकारिता में दिलचस्पी रखते हैं तो हमारे मीडिया इंस्ट्टीयूट में आए

यह भी देंखे: