spot_img
Homenewsसही तरीका न अपनाने पर योग के हो सकते हैं ये दुष्परिणाम

सही तरीका न अपनाने पर योग के हो सकते हैं ये दुष्परिणाम

योग का महत्व और इससे होने वाले लाभ आज दुनिया भर में जाने जाते हैं। योग हमारे जीवन को एक ठहराव और सही आयाम देने का काम करता है। ये हमें मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ भी रखता है। यह प्रमाणित तथ्य हैं की योग मुद्रा, ध्यान और योग में श्वसन की विशेष क्रियाओं द्वारा तनाव से राहत मिलती है, योग मन को शांत रखने के साथ-साथ मानसिक स्थिरता प्रदान करता है जो हमारे दैनिक जीवन में सहायक होता है, लेकिन क्या आपको पता हैं सही तरह से योग न करने के बुरे परिणाम भी हो सकते हैं, जी हां इसे करने से पहले इसके सही तरीको और मुद्राओं को डीन लेना आवश्यक है, आइए आपको बताते हैं कि सही तरह से योग न करने के हमारे जीवन पर क्या बुरे असर पड़ सकते हैं-

– बितिलासन और मारजर्यासन जैसे योग आपके पीठ दर्द और पीठ से जुड़ी अन्य समस्याओं को कम करने में मदद करते हैं और यदि इन सारे योग को गलत तरीके से किया जाएगा तो ये योगासन एक गंभीर पीठ दर्द का कारण भी बन सकते हैं।

– बहुत से योगासन इस प्रकार के होते हैं जिसमें मांसपेशियों का खिचाव होता है। इनमें धनुरासना, सेतु बंधा सर्वांगासन, डॉल्फिन पोज, सालाभासन और स्फिंक्स पोज योग आते हैं, इसलिए जब भी आप इन आसनों का अभ्यास करते हैं तो आपको इसे करने के सही तरीकों का पता होना जरूरी होता है नहीं तो  इससे मांसपेशियों में दर्द होना शुरू हो जाएगा।

– मत्स्यासना और कपोटासना  आदि ऐसे आसन हैं जिसमें गर्दन की मांसपेशियां कार्यरत होती हैं। इस आसन में गर्दन को झुकाने और घुमाने की क्रिया होती है यदि आप इन अभ्यासों के दौरान गलती करते हैं, तो आप गर्दन में मोच और दर्द का सामना कर सकते हैं।

– अर्ध चंद्रासना, मालासना आदि ऐसे योग हैं जिन्हें करते वक्त आपकी एड़ियों पर दबाव पड़ता है और अगर आप इसे गलत तरीके से करते हैं तो आप अपनी एड़ियों को गंभीर रूप से घायल कर सकते हैं।

सही प्रकार से किया गया योग आपके जीवन को सकारात्मक सोच औऱ चुस्त शरीर प्रदान कर सकता है वहीं गलत तरीके से किया गया योगासन आपको कई तरह से क्षति पहुंचा सकता है। इसलिए योग करते समय इन बांतो का ध्यान जरूर रखें। बता दें कि योग से होने वाले लाभ और गुणों को देखते हुए पूरे विश्व में 21 जून को योग दिवस मनाया जाता है।