अपने इस ‘करवा चौथ’ को बनायें और भी खास, ऐसे करें सोलह श्रृंगार

831
अपने इस करवा चौथ को बनायें और भी 'खास', ऐसे करें सोलह श्रृंगार

नई दिल्ली- करवा चौथ यानी सुहागिनों का त्‍योहार इस बार 27 अक्टूबर शनिवार को है। इस दिन विवाहित महिलाएं अपने पति के लिए व्रत रखकर उनकी लंबी उम्र के लिए कामना करती हैं। इस व्रत में विवाहिता पूरे दिन निर्जला व्रत रहती हैं। संकष्टी चतुर्थी पर मां पार्वती के साथ-साथ उनके दोनों पुत्र गणेश और कार्तिक की भी पूजा की जाती है। सुबह महिलाएं मां पार्वती और शिवजी की पूजा-अर्चना कर व्रत रखती हैं और सूर्योदय से पहले ही चाय या पानी पी लेती है और सूर्योदय होने के साथ अपना व्रत शुरु करती हैं।

इस व्रत में कई चीजें अहम और शुभ मानी जाती हैं जैसे करवा, ‘मां’ की पूर्ण तरीके से पूजा और चांद देखकर व्रत खोलना इत्यादि। इन्में एक चीज और आती हैं, वह है व्रत तोड़ते वक्त महिलाओं द्वारा किया जाने वाला सोलह श्रृंगार। जी हां, सोलह श्रृंगार। इस त्योहार में महिलाएं खुद को अपने पति के लिए सजाती हैं और उनकी लंबी उम्र की कामना करती हैं। आज हम आपको बताते हैं कि सोलह श्रृंगार में कौन-कौन सी चीजें आती हैं जिन्हें आपको इस करवा चौथ अपने श्रृंगार में शामिल करना है।

सोलह श्रृंगार में आती हैं ये चीजें

 

सिंदूर, मंगलसूत्र, मांग टीका, काजल, नथनी, कर्णफूल, हाथों पर खूबसूरत मेंहदी, चूड़ियां, बिछिया, पायल, कमरबंद, अंगूठी, बाजूबंद और गजरा। साथ ही सोलह श्रृंगार में लाल रंग की साड़ी या सूट को भी शामिल किया जाता है। ‘लाल’ रंग करवा चौथ या शादी के हर त्योहार के लिए शुभ माना जाता है।