राजस्थान में गरजे राहुल, वसुंधरा और मोदी के बारे में ये कहा !

0
311

पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद सभी दल सियासी समर में उतर चुके हैं। इसी कड़ी में मंगलवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी राजस्थान के धौलपुर पहुंचे और चुनाव अभियान की शुरुआत की। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने धौलपुर की रैली में कहा कि साढ़े चार साल से नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री हैं और राजस्थान में वसुंधरा जी सीएम हैं, लेकिन क्या उन्होंने राज्य के लिए कुछ किया।

जब हमारी केंद्र सरकार थी तो हमने लोगों को मनरेगा दिया, 70 हजार करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया और इसके अलावा राज्य की अशोक गहलोत सरकार ने राज्य की हालत सुधारी थी। मोदी सरकार ने गरीबों, किसानों और मजदूरों के लिए कुछ नहीं किया।

अमीरों का कर्ज माफ करते हैं मोदी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल ने कहा कि हमारी सरकार ने किसानों का 70 हजार करोड़ रुपया माफ किया, लेकिन नरेंद्र मोदी ने अपनी सरकार में हिंदुस्तान के 15-20 अमीरों का साढ़े तीन लाख करोड़ रुपये का कर्जा माफ किया।

उन्होंने कहा कि इनमें विजय माल्या, मेहुल चोकसी और नीरव मोदी का नाम शामिल है। राहुल गांधी ने कहा कि मैं सिर्फ प्रधानमंत्री के दफ्तर में एक बार गया हूं और सिर्फ उनसे किसानों के कर्जमाफी की बात की। मैंने उनके दफ्तर में जाकर कहा कि आप अरबपतियों के प्रधानमंत्री नहीं हो। जब मैंने प्रधानमंत्री से किसान का कर्ज माफ करने की बात कही, लेकिन उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। वो चुपचाप मुझे देखते रहे।

चुनाव से पहले वसुंधरा ने किया ऐलान’

रैली में कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि वसुंधरा जी चुनाव से ठीक पहले कहती हैं कि मैं मुफ्त में बिजली दूंगीं, लेकिन वसुंधरा जी चार साल से क्या कर रही थीं. एक तरफ प्रधानमंत्री किसानों का कर्ज माफ नहीं करती हैं, लेकिन नीरव मोदी-मेहुल चोकसी के साथ इनका भाई-भाई का रिश्ता है. नरेंद्र मोदी, मेहुल चोकसी को भाई बुलाते हैं।

अनिल अंबानी के चौकीदार’ हैं प्रधानमंत्री

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री जब चुनाव लड़ रहे थे तो उन्होंने कहा था कि वे प्रधानमंत्री नहीं चौकीदार बनेंगे. लेकिन उन्होंने ये नहीं बताया था कि वो किसकी चौकीदारी करेंगे, नरेंद्र मोदी आज अनिल अंबानी की चौकीदारी करते हैं। राफेल विमान की डील उन्होंने HAL से छीन कर अनिल अंबानी को दे दी. इस डील में प्रधानमंत्री ने भ्रष्टाचार किया है। अनिल अंबानी पर 45000 करोड़ रुपये का कर्ज है.

राहुल बोले कि अनिल अंबानी के पास राफेल विमान बनाने का कोई अनुभव नहीं था, फ्रांस के साथ हुई डील से 10 दिन पहले ही उनकी कंपनी बनी थी। मोदी सरकार ने फ्रांस को सीधे कहा था कि अगर डील होगी तो अनिल अंबानी की कंपनी के साथ ही होगी। आज प्रधानमंत्री मेरी आंख में आंख नहीं मिला सकते हैं।

गब्बर सिंह टैक्स से परेशान है छोटे कारोबारी

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि नरेंद्र मोदी की सरकार ने ‘गब्बर सिंह टैक्स’ लागू कर छोटे कारोबारियों को नुकसान पहुंचाया है। इन्होंने मनरेगा का मजाक उड़ाया, जबकि मनरेगा ने गरीबों की मदद की थी। BJP वालों ने नारा दिया कि ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ लेकिन यूपी में इनका ही विधायक महिला के साथ बलात्कार करता है और वहां के सीएम उसे बचाते हैं। प्रधानमंत्री ने एक बार भी नहीं कहा कि इसको पार्टी से निकाल दो। राहुल ने कहा कि मैं आपको सच्चा नारा बताता हूं जो है ‘बेटी पढ़ाओ, बीजेपी विधायक से बचाओ’।

सचिन पायलट ने वसुंधरा को घेरा

धौलपुर रैली में अशोक गहलोत ने कहा कि वसुंधरा के प्रति पूरे राजस्थान में गुस्सा है. पिछली बार जो उन्हें बहुमत मिला उसका उन्होंने ठीक इस्तेमाल नहीं किया, वसुंधरा राजे ने राजस्थान को बर्बाद किया। कार्यक्रम में कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने कहा कि राजस्थान में वसुंधरा जी ने 5 साल तक कुशासन किया। ये मुख्यमंत्री जी का गृह जिला है, लेकिन सीएम ने यहां के लोगों को ही निराश किया। उन्होंने यहां के लोगों की मदद नहीं सिर्फ उनका शोषण किया है. पायलट बोले कि 4 साल 19 महीने 16 घंटे तक इन्हें किसानों की याद नहीं आई लेकिन चुनाव से आधे घंटे पहले इन्हें किसानों की याद आई और इन्होंने उनके लिए ऐलान किया।

लोकसभा चुनाव का सेमीफाइनल

3 बड़े राज्य मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के चुनावों को 2019 के लोकसभा चुनावों के पहले का सेमीफाइनल माना जा रहा है। चुनाव आयोग ने पिछले दिनों पांच राज्यों मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में चुनावों की तारीखों की घोषणा की थी। छत्तीसगढ़ में दो चरणों में चुनाव होंगे। पहले चरण के लिए 12 नवंबर और दूसरे चरण के लिए 20 नवंबर को वोट डाले जाएंगे। मध्य प्रदेश और मिजोरम में 28 नवंबर को चुनाव होंगे। वहीं, राजस्थान और तेलंगाना में एक साथ 7 दिसंबर को वोटिंग होगी। पांचों राज्यों के लिए 11 दिसंबर को वोटों की काउंटिंग होगी और इसी दिन रिजल्ट जारी किया जाएगा। छत्तीसगढ़ में विधानसभा की 90 सीटें, मध्य प्रदेश में 230, मिजोरम में 40, राजस्थान में 200, तेलंगाना में 119 सीटों पर चुनाव होने हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here