पढ़िए मां चंद्रघंटा स्तोत्र पाठ।। Maa Chandraghanta Stotra Path

0
203

मां दुर्गा की तृतीय शक्ति का नाम ‘चंद्रघंटा’। नवरात्रि विग्रह के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा की जाती है। मां का यह स्वरूप कल्याणकारी और शांतिदायक है।

मां चंद्रघंटा स्तोत्र पाठ

आपदुध्दारिणी त्वंहि आद्या शक्तिः शुभपराम्।
अणिमादि सिध्दिदात्री चंद्रघटा प्रणमाभ्यम्॥
चन्द्रमुखी इष्ट दात्री इष्टं मन्त्र स्वरूपणीम्।
धनदात्री, आनन्ददात्री चन्द्रघंटे प्रणमाभ्यहम्॥
नानारूपधारिणी इच्छानयी ऐश्वर्यदायनीम्।
सौभाग्यारोग्यदायिनी चंद्रघंटप्रणमाभ्यहम्॥

कल्याणकारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here