तृ्तीय भाव में स्थित केतु आपके लिए शुभ या अशुभ! Ketu in Third House

0
177

तृ्तीय भाव में स्थित केतु आपके लिए शुभ या अशुभ, तीसरे भाव में स्थित केतू आपको मिले जुले परिणाम देगा। यह आपको बलवान बनाने के साथ-साथ धैर्यवान भी बनाता है। आप दान पुण्य़ के कार्यों में विश्वास करते हैं यही कारण है कि आप दानशील पुरुषों की संगति में रहते हैं।

यह आपको बलवान बनाने के साथ-साथ धैर्यवान भी बनाता है। आप दान पुण्य़ के कार्यों में विश्वास करते हैं यही कारण है कि आप दानशील पुरुषों की संगति में रहते हैं। बलसाली और धनवान होंगे। आप यशस्वी बनेंगे। स्त्री तथा खान-पान का सुख आपको खूब मिलेगा।

आप शत्रुओं का दमन करने वाले होंगे अर्थात आपके शत्रु आपसे भयभीत रहेंगे। इस भाव में स्थित केतू के कुछ अशुभ फल भी कहे गए हैं। इस कारण से आप कुछ व्यर्थ की चिंताओं से घिरे रह सकते हैं। मन में कोई अनजाना भय समाया रह सकता है। कभी-कभी चित्त में भ्रम और चिंता से व्याकुलता रह सकती है। आपका विश्वास भूत प्रेतों में हो सकता है। अथवा आप भूत प्रेतों को देवाताओं की संज्ञा दे सकते हैं।

किसी कारण से समाजिक भय रह सकता है। भाइयों को कष्ट रह सकता है। मित्र भी कुछ हद तक प्रभावित रह सकते हैं। मित्रों से हानि होने का भय रहेगा। आपकी भुजाओं में पीडा रह सकती है। यदि आप व्यर्थ के वाद विवाद से जुडे रहेंगे तो भी आपको परेशानी रह सकती है। हालाकि यह स्थिति आपको शत्रुओं से बचाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here